ओ सरकार – तेरी चाल बेकार

sonisorievaluation

धिक्कार है ,
सोनी सॉरी के सच के आगे,
निर्बल पोलिस ,
अंधी सरकार है …

भारत वर्ष को ,
नारी शक्ति का ,
सोनी सॉरी उपहार है,
दुर्गा सी लड़ती सोनी,
दुर्बल हर सरकारी वार है ..

ओ सूझवान  !
तेरी हार का यह अहंकार है,
साबित ना कर सका असत्य,
सोनी सॉरी को पागल घोषित करना,
यही आख़िरी हथियार है …

तू धनुष ले ,
प्रत्यांचा चढ़ा,
तू वार कर…

देश का जन जन सिध है कृष्ण सा,
बस तू ही अँधा धृतराष्ट्र,
दुर्योधन से कपटी तेरे वार हैं …

मैं जन मानस इस धरती का,
तेरी तो बस पाँच वर्ष की सरकार है,
सोनी सॉरी को पागल घोषित करना,
यह चाल बासी-बेकार है ..

@राहुल योगी देवेश्वर

Advertisements